वार्षिकोत्सव ‘रस फुहार-कला-दर्पण’ संपन्न

रस फुहार

मारवाड़ी सम्मेलन द्वारा संचालित श्रीमती बी.एम.रूइया गर्ल्स कॉलेज एवं सीताराम देवरा इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज़ का वार्षिकोत्सव ‘रस फुहार-कला-दर्पण’ 6 जनवरी 2018 को बिरला मातुश्री सभागृह में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर मारवाड़ी सम्मेलन व कार्यक्रम के अध्यक्ष एडवोकेट सुशील व्यास, सम्माननीय अतिथि एस.एन.डी.टी. विश्वविद्यालय की रजिस्ट्रार व पी.व्ही.डी. टी. कॉलेज ऑफ एजुकेशन फ़ॉर वीमेन की प्राचार्या डॉ. मीना प्रकाश कुटे, मारवाड़ी सम्मेलन के महामंत्री सुरेश देवरा, ट्रस्टी व बी.एम.रुइया गर्ल्स कॉलेज के संयोजक श्रीकांत डालमिया, मारवाड़ी सम्मेलन के ट्रस्टी कैलाश केजरीवाल, सीताराम देवरा इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज़ के संयोजक विजय सिंघल, व्यवस्थापक सदस्य अजय सिंघानिया, जुगलकिशोर जालान, आनन्दप्रकाश गुप्ता, शैलेश डालमिया एवं प्राचार्या डॉ. सन्तोष कौल काक की उपस्थिति ने कार्यक्रम को सुशोभित किया व सफल बनाया।

रस फुहार

इस रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रारंभ अतिथियों के कर-कमलों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया; तदनन्तर महाविद्यालय की सांस्कृतिक इन्चार्ज श्रुति रानडे द्वारा ईश वन्दना प्रस्तुत की गई। इस सांस्कृतिक कार्यक्रम द्वारा अनेकता में एकता वाले भारत की कलाओं को, विभिन्न राज्यों, विशेषकर महाराष्ट्र, राजस्थान, पंजाब की सांस्कृतिक विरासत को, उनकी पहचान को, रंगबिरंगी लोक वेशभूषा से सुसज्जित महाविद्यालय की छात्राओं ने नृत्य, गीत-संगीत व नाटक के माध्यम से प्रस्तुत कर सबको रसविभोर व आनन्दित कर दिया। साथ ही बॉलीवुड के अमर गीत-संगीत को तथा उन अभिनेत्रियों को जिन्होंने अपनी अभिनय कला से फ़िल्म जगत में अपने आप को अमर कर दिया, उनकी याद को नृत्य व फैशन-शो के माध्यम से ताजा कर सारे वातावरण को भाव-विभोर कर दिया।

यह भी पढ़ें ...  बिहार में आग का गोला बनी बस, जिंदा जले 20 यात्री, CM ने दिए जांच के आदेश

रस फुहार

भविष्य में हम और अधिक प्रगति करने का प्रयास करेंगे- डॉ.सन्तोष कौल काक

इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. सन्तोष कौल काक ने महाविद्यालय का परिचय देते हुए वर्षभर की एकेडमिक व अन्य गतिविधियों से अवगत कराने के साथ-साथ कहा कि भविष्य में हम और अधिक प्रगति करने का प्रयास करेंगे। डॉ. मीना प्रकाश कुटे ने महाविद्यालय के एकेडमिक रिकॉर्ड की सराहना करते हुए कहा कि उन्हें गर्व है कि बी एम रुइया जैसा महाविद्यालय एस.एन.डी.टी. विश्वविद्यालय से जुड़ा है, जिसने यूनिवर्सिटी के गौरव को बढ़ा दिया है। उन्होंने  छात्राओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे अपनी मेहनत व लगन से इस महाविद्यालय की शान को बनाये रखते हुए एक सुदृढ़ लक्ष्य, मजबूत इरादों व अथक परिश्रम के साथ आगे बढ़ें।

रस फुहार

कैलाश केजरीवाल ने प्राचार्या को कार्यक्रम के सफल आयोजन की बधाई देते हुए उनके संरक्षण में महाविद्यालय की प्रगति की सराहना की और भविष्य में भी इसी तरह कुशल नेतृत्व के साथ प्रगति की ओर बढ़ने की शुभकामनाएं दीं। एडवोकेट सुशील व्यास ने स्त्री शिक्षा के लिए समर्पित सम्मेलन के असीम योगदान की चर्चा करते हुए सम्मेलन द्वारा चलाये जानेवाली विभिन्न संस्थाओं की प्रगति से भी परिचित कराया तथा भविष्य में भी मारवाड़ी सम्मेलन के मजबूत संगठन में चलनेवाली सभी संस्थाओं के विकास में योगदान की बात कहते हुए प्राचार्या व सांस्कृतिक इन्चार्ज एवं उनकी टीम तथा मार्गदर्शन देने वाले कोरियोग्राफर शशिन मिस्त्री व उनकी टीम की लगन की सराहना की तथा सभी को धन्यवाद एवं शुभकामनाएं दीं।

यह भी पढ़ें ...  Maharashtra SSC Result 2018: कल घोषित होंगे महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं के नतीजे, यहां करें चेक

यह भी पढ़ें  ➡ 

रस फुहार

छात्राओं का भी किया गया सम्मानित:

इस अवसर पर महाविद्यालय की उन छात्राओं को भी सम्मानित किया गया, जिन्होंने अपने विषय की परीक्षाओं में विश्वविद्यालय व बोर्ड स्तर पर सर्वाधिक अंक प्राप्त कर महाविद्यालय को गौरवान्वित किया। एसएनडी टी विश्वविद्यालय में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने का गौरव मता परदेशी (हिंदी), संध्या दास (समाजशास्त्र), प्रीति पांडे (अर्थशास्त्र-अंग्रेजी), रंजना गुप्ता (वाणिज्य), श्रुति कदम (बीएमएस), प्रिया कुट्टी (बी.एम.एम), हर्षिता गुप्ता (बी.सी.ए), गोस्वामी दीप्ति (12E), शाह ज्योति (12H), शिंदे श्वेता (वाणिज्य) ने प्राप्त किया। अन्तरमहाविद्यालयीन निबंध-लेखन स्पर्धा का प्रथम पुरस्कार उमा चौहान, द्वितीय पुरस्कार पूनम यादव को मिला तथा शील्ड बी एम रुइया गर्ल्स कॉलेज को मिली। स्वाति शुक्ला को “मिस यशस्विनी” का सम्मान दिया गया एवं प्रथम रनरअप का सम्मान अंशुता खण्डेलवाल, द्वितीय रनरप का सम्मान अनिता तमंग को, ‘बेस्ट एन एस वॉलेंटियर‘ का सम्मान रुपाली डिगणकर व प्रियंका गुप्ता को, ‘बेस्ट खिलाड़ी‘ का सम्मान ऐश्वर्या खाड़े को एवं ‘बेस्ट एन सी सी कैडैट‘ का एवार्ड प्राप्त करने का गौरव स्नूशा गजाकोश को मिला।

LEAVE A COMMENT

Please enter your comment!
Please enter your name here