विश्वकर्मा समाज द्वारा दहेजरहित भव्य सामूहिक विवाह का आयोजन

सामूहिक विवाह

सामाजिक कुरीतियों  खिलाफ विश्वकर्मा समाज द्वारा पूरे देश में अभियान चलाया जा रहा है। दहेज़ के खिलाफ सामूहिक विवाह इन्हीं प्रयासों में एक है। रविवार को कानपुर में भव्य विश्वकर्मा सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस सम्मेलन में उत्तर प्रदेश सचिव छोटे सिंह विश्वकर्मा, अभय विश्वकर्मा, जीतू विश्वकर्मा, राजेश विश्वकर्मा, मानवाधिकार अध्यक्ष कानपुर संतोष विश्वकर्मा, लालू विश्वकर्मा  एवं अन्य वरिष्ठगण उपस्थित रहे।

सामूहिक विवाह

इस सम्मेलन में 18 सामूहिक जोड़ों का विवाह संपन्न कराया गया। इसमें पूर्ण विधि विधान एवं दहेजरहित शादी का प्रावधान रखा गया था। इस विवाह सम्मलेन में नवजीवन के प्रारम्भ में सहायता स्वरुप हर जोड़े को विश्वकर्मा समाज उत्थान कानपुर की ओर से ₹20,000 का नगद चेक प्रदान किया गया।

शादी करने वाले जोड़ों में इस प्रक्रिया के प्रति असीम उत्साह नजर आया एवं उन्होंने विश्वकर्मा समाज के सामूहिक विवाह  सम्मेलन में शादी करके खुद को सौभाग्यशाली समझा, क्योंकि दहेजरहित विवाह समाज के लिए एक आदर्श साबित हो सकता है। शादी करनेवालों में से एक दूल्हे ने अपनी प्रसन्नता प्रकट करते हुए कहा,

मैं सौभाग्यशाली हूं जो मुझे देश के हर कोने से आए हुए लोगों ने आशीर्वाद प्रदान किया। मैं अपने परिवार में यदि शादी का कार्यक्रम रखता, तो इतने लोगों के आशीर्वाद का सौभाग्य कभी प्राप्त नहीं होता !

सामूहिक विवाह

इस कार्यक्रम के सन्दर्भ में वहां उपस्थित अभय विश्वकर्मा ने कहा ,”विश्वकर्मा समाज के बढ़ते उत्साह और सामाजिक रचनात्मकता को देखकर मन गदगद हो गया। विश्वकर्मा समाज द्वारा किया जा रहा यह प्रयास सभी वर्गों के लिए अनुकरणीय कदम है।”

LEAVE A COMMENT

Please enter your comment!
Please enter your name here