महेश विश्वकर्मा को विशिष्ट शिक्षक गौरव पुरस्कार

भारती प्रसार-परिषद का 44 वां स्थापना एवं हिंदी दिवस सम्मान समारोह संम्पन

भारती प्रसार-परिषद

मुंबई: भारती प्रसार-परिषद, मुंबई का ४४ वां स्थापना एवं हिंदी दिवस सम्मान समारोह शनिवार को बांद्रा (प.) के स्पास्टिक सोसायटी ऑफ इंडिया के सभागृह में संपन्न हुआ। इस पुरस्कार वितरण समारोह में विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत प्रतिभावान एवं विशिष्ट विभूतियों को उनके विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

भारती प्रसार-परिषद

इस पुरस्कार वितरण समारोह में 32 वाँ भारती गौरव पुरस्कार चंद्रकिशोर सिंह को प्रदान किया गया। वे एक प्रसिद्ध लेखक, समालोचक व साहित्यकार हैं। ठाकुर शिवगोपाल सिंह की पावन स्मृति में दिया जानेवाला 20 वां ‘विशिष्ट शिक्षक गौरव सम्मान‘ बॉम्बे स्कॉटिश स्कूल, माहिम के हिंदी शिक्षक महेश विश्वकर्मा को प्रदान किया गया। उन्हें पुरस्कारस्वरुप  शॉल, श्रीफल, पुष्पगुच्छ, प्रशस्तिपत्र व समृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया। अनेक पुरस्कारों से सम्मानित महेश विश्वकर्मा अपनी सादगी व सेवाभाव के लिए जाने जाते हैं। विद्यार्थियों के बीच अत्यंत ही लोकप्रिय श्री विश्वकर्मा १५ वर्षों से शिक्षण कार्य से जुड़े हैं।

19 वाँ बिंद्राप्रसाद कानोरिया पावन स्मृति ‘विशिष्ट विद्यार्थी गौरव पुरस्कार‘ भारती हिंदी नाईट स्कूल के छात्र अंसारी समीर मोहम्मद शहाबुद्दीन को व ‘पंडित महादेव हंसनाथ मिश्र विशिष्ट समाज सेवी सम्मान’ पंकज मिश्र को दिया गया। पंकज मिश्र एक शैक्षणिक व सामाजिक कार्यकर्ता हैं। संस्था का 18 वाँ माँ साहेब सुशीला बाबूराव ठोम्बरे पावन स्मृति ‘विशिष्ट चिकित्सक गौरव पुरस्कार’ डॉ. सुनील अग्रवाल को दिया गया। डॉ. अग्रवाल जाने माने कर्क रोग विशेषज्ञ हैं। 10 वाँ श्रीमती रामादेवी द्विवेदी पावन स्मृति ‘विशिष्ट पत्रकार गौरव पुरस्कार’ प्रीतम कुमार सिंह ‘त्यागी’ को दिया गया। श्री त्यागी वरिष्ठ पत्रकार हैं। अपनी पत्रकारिता के माध्यम से वे समय-समय पर समाज को जागृत करते रहने का कार्य करते रहे हैं। 9 वाँ भारती प्रसार परिषद, मुंबई ‘विशिष्ट कार्यकर्ता सम्मान’ सुरेश मालोंडकर को दिया गया। सुरेश मालोंडकर प्रसार परिषद में ही संयुक्त मंत्री के पद पर कार्यरत हैं। 1 ला ‘भारती साहित्य युवा सम्मान’ गिरिजेश पाल के सौजन्य से डॉ. जितेंद्र पांडे को दिया गया। 1 ला श्रीनाथ सिंह पावन स्मृति ‘विशिष्ट अधिवक्ता सम्मान’ ऐडवोकेट विजय कुमार कानोरिया को दिया गया। विधि के क्षेत्र में श्री कानोरिया अपनी सेवा अधिवक्ता के रूप में लगातार समाज को देते रहे हैं।

भारती प्रसार-परिषद

भारती प्रसार परिषद के अध्यक्ष रमेश बहादुर सिंह ने संस्था के मंत्री रामनयन दुबे, सांस्कृतिक मंत्री संजय द्विवेदी, स. मंत्री दिलीप सिंह के सहयोग से कार्यक्रम का सफल आयोजन किया। इस सम्मान समारोह में परवेज़ अमीन प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। परवेज़ अमीन जकुवार के सीनियर प्रेसिडेंट के रूप में कार्यरत हैं। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में विख्यात कवि व साहित्यकार हृदयेश मंयक उपस्थित रहे। कार्यक्रम में सम्माननीय अतिथि के रूप में भवन निर्माता व समाजसेवी इमरान कुरेशी व समाजसेवी अजित आंबेकर उपस्थित रहें।

भारती प्रसार-परिषद

इस अवसर पर कवि सम्मेलन का भी आयोजन किया गया। कवि सम्मलेन की अध्यक्षता कवि हृदयेश मयंक ने व संचालन सुरेश मिश्र ने किया। अतिथि कवि के रूप में स्वामी ब्रह्मत्मानंद सरस्वती, सतीश कुमार सिंह, राज बुंदेली, मृदुल तिवारी, विनोद कुमार सिंह, विवेक कुमार सिंह व ज्योति त्रिपाठी ने कविता पाठ किया। संस्था के अध्यक्ष रमेश बहादुर सिंह ने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए सभी का आभार प्रकट किया।

LEAVE A COMMENT

Please enter your comment!
Please enter your name here